सिंगरौली। मुख्यमंत्री ने दी 1072 करोड़ रूपयें की सिचाई परियोजना की सौगात

0
933
सिंगरौली के उद्योगों में स्थानीय युवाओं को मिलेगे रोजगार के 70 प्रतिषत स्थान
मुख्यमंत्री ने सिंगरौली जिलें के 19 हजार किसानों के ऋण माफी प्रमाण पत्र वितरित किये
अनोखी आवाज न्यूज,सिंगरौली । मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सिंगरौली जिला मुख्यालय के एनसीएल मैदान में आयोजित वृहद समारोह में 19 हजार से अधिक किसानों के ऋण माफी प्रमाण पत्र वितरित किये। किसानों के 87 करोड़ से अधिक राषि के ऋण जय किसान फसल ऋण माफी योजना से माफ किये गये है। मुख्यमंत्री ने 1072.20 करोड़ रूपये कि लागत की गोड़ सिचाई परियोजना की आधार षिला रखी। इससें सिंगरौली तथा सीधी जिलें के 165 गावों के किसान लाभान्वित होगे। मुख्यमंत्री ने जिला चिकित्सालय सिंगरौली कंे 200 बिस्तर अस्पताल में उन्नयन के लिए 17 करोड़ रूपयें के निर्माण कार्यो तथा 5 गौषालाओं के निर्माण के लिए 2 करोड़ 72 लाख रूपयें के कार्यो का भूमि पूजन किया।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि सिंगरौली जिलें के उद्योगों में स्थानीय युवाओं को रोजगार के 70प्रतिषत स्थान दिये जायेगे। जिला प्रषासन इसके लिए समुचित कार्यवाही करे। दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने का नारा छलावा, साबित हुआ। हम युवाओं को रोजगार का उचित अवसर प्रदान करेगे। आम जनता का सहयोग मिला तों सिंगरौली का समंग्र विकास होगा। यहा माईनिंग कालेज खोलने के साथ विकास के सभी प्रमुख कार्य होगंे।आज का दिन सिंगरौली के ऐतिहासिक दिन है। आज गोड़ सिचाई परियोजना का षिलान्यास किया गया है। इससेे किसानों कि तकदीर बदलेगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि जय किसान ऋण माफी योजना से पूरे प्रदेष में आज तक 25 लाख किसानों के ऋण माफी का कार्य पूरा हो जायेगा। शेष सभी पात्र किसानों को भी ऋण माफी का लाभ मिलंेगा। महिला दिवस पर महिलाओं को बधाई देते हुयें मुख्यमंत्री ने कहा कि सिंगरौली में स्वरोजगारी महिलायें अच्छा कार्य कर रही है। महिलायें अब किसी के बहकावे तथा छलावे में न आये। नारा लगाने वालों तथा झूठे आष्वासन देने वालो से सावधान रहे।आप सब संच्चाई का साथ देगे तों क्षेत्र का चाहुमुखी विकास होगा।मुख्यमंत्री ने समारोह में युवा उद्यामी योजना के तहत चयनित युवाओं को ऋण स्वीकृती प्रमाण पत्र प्रदान किये।
मुख्यमंत्री ने कहा कि जिनकी नियत साफ नही है। वे गंगा को साफ करने कि बात कर रहे है। सेना द्वारा की गई सफल कार्यवाहियों का राजनीतिकरण करके राष्ट्रवाद का ढोल पीटा जा रहा है। ऐसे लोगो से आम जनता सावधान रहे। प्रदेष में पिछले 15 वर्षो में जितने उद्योग खुले नही उससे अधिक बंद हो गये। यदि प्रदेष का सचमुच में विकास हुआ होता तों युवा रोजगार के लिए भटकते नही रहते।
समारोह में जिले के प्रभारी मंत्री प्रदीप जयषवाल मंत्री खनिज विभाग ने कहा कि हमारी सरकार कार्य करने और परिणाम देने वाली सरकार है। हमने अपने संकल्प पत्र में जो संकल्प लिया है। उसें पूरा कर रहे है। हमारी सरकार में प्रचार कम काम अधिक होगा।सरकार ने हाल ही में निराश्रितों तथा वृद्ध जनो कि पेंषन दोगुनी कर दी है। समारोह में पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री कमलेष्वर पटेल ने कहा कि मुख्यमंत्री जी ने शपथ ग्रहण करने के दो घण्टे के अंदर किसानों की ऋण माफी के आदेष जारी कर दिये।
कन्यादान योजना की राषि बड़ाकर 51 हजार रूपयें कर दी गई है। मुख्यमंत्री जी ने केवल 70 दिनों में ही कई ऐतिहासिक फैसले लिए है।
मंत्री श्री पटेल ने सिंगरौली जिलें के विकास के संबंध में कहा कि सिंगरौली को सिंगापुर बनाने कि जरूरत नही है यहां मूलभूत सुविधाओं कि आवष्यकता है। नगर निगम सिंगरौली को पेय जल व्यवस्था के लिए खनिज मद से 25 करोड़ रूपयें मिले है। उन्होने ने उद्योगों के कारण विस्थापित होने वालों को उचित मुआवजा तथा रोजगार देने एवं सीधी सिंगरौली फोरलेन सड़क का अधूरा कार्य पूरा कराने कि मांग की।
उन्होनें जिले में माईनिंग कालेज खोलने का भी सुझाव दिया। उन्होने ने गौषालाओं के निर्माण तथा गेहु एवं मंक्का के घोषित समर्थन मूल्य में बोनस राषि देने के लिए मुख्यमंत्री के प्रति आभार व्यक्त किया।समारोह में पूर्व सांसद तिलक राज सिंह ने क्षेत्र की समस्याओं के निदान तथा विकास का सुझाव दिया।
समारोह का सुभारंभ मुख्यमंत्री ने दीप प्रज्वलित करके किया। इसके बाद नवागत कलेक्टर के.वी.एस चैधरी ने स्वागत उद्बोधन देते हुये कार्यक्रम कि रूप रेखा प्रस्तुत की। समारोह में मुख्यमंत्री ने महिला दिवस के अवसर पर श्रेष्ठ कार्य करने वाली महिलाओं आगनवाड़ी कार्यकर्ता पूजा सोनी, सामाजिक कार्यकर्ता रेहाना सिद्दीकी सामाजिक कार्यकर्ता विजय लक्ष्मी शुक्ला, तथा शर्मिला सिंह को प्रषस्ति पत्र प्रदान किये।
समारोह में वनाधिकार अधिनियम के तहत पात्र परिवारों को वनाधिकार पत्र प्रदान किये गये। समारोह में रीवा संभाग के कमिष्नर डाॅ0 अषोक भार्गव, पुलिस महानिरीक्षक चंचल शेखर, पुलिस अधीक्षक हितेष चैधरी, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी प्रियंक मिश्रा, वनमण्डलाधिकारी विजय सिंह, आयुक्त नगर पालिक निगम षिवेन्द्र सिंह, अपर कलेक्टर ऋजु बाफना, वीणा सिंह, बी.पी. सिंह, रेणु साह, सरास्वती सिंह, कमलेष सिंह, सहित जन प्रतिनिधि गण तथा हजारों किसान एवं महिलायें उपस्थित रही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here